Blog website Banane ke bad Adsense ke liye kab apply kare.

न्यू ब्लॉगर को ये जानना बहुत जरूरी है। की ब्लॉग को एडसेंस के लिए कब अप्लाई करें, और  ब्लॉग को कब अप्लाई करना चाहिए। इन सब बातो को जान लेना बहुत जरूरी हैं। इस पोस्ट में हम इसी के बारे के बात करेगे। जिससे आपको पता चल जाए कि एडसेंस के लिए कब अप्लाई करना चाहिए। और आप न्यू ब्लॉग बनाने के बाद कब पैसे कमा सकते है। उस के लिए आपको कितने पोस्ट और पेज व्यूज जरूरी होते है। 


न्यू ब्लॉग बनाने के बाद क्या क्या करना होता है। न्यू ब्लॉगर को इस के बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं होता है। और 1 से 2 पोस्ट लिखने के बाद एडसेंस के लिए अप्लाई कर देते है। जिस का नतीजा ये होता है। की आप को approval नहीं मिलता और आप निराश को जाते है। सब को पैसे कमाने की बड़ी जल्दी पड़ी रहती है। पर ऑनलाइन पैसे कमाने में ऐसा नहीं है आप को पहले मेहनत करनी होगी। तब जाकर आप पैसे कमा सकते है। बहुत अच्छा पैसा कमा सकते है।

Blog कैसा है। 


ब्लॉग को एडसेंस के लिए अप्लाई करने से पहले इन बातो को ध्यान में रखना चाहिए।  कि आप का ब्लॉग कितना पुराना है। ब्लॉग पर कितनी पोस्ट है। डेली कितने पेज व्यूज आते है। और आप के ब्लॉग पर जो contant शेयर किया जाता है।  बो कैसा है। आप आर्टिकल कैसे लिखते है। 
ऐडसेंस के लिए अप्लाई करने से पहले आप का ब्लॉग कम से कम 1 महीना पुराना होना चाहिए। कम से कम 10 से ज्यादा पोस्ट publish होनी चाहिए। और डेली कम से कम 15 से 20 पेज व्यूज आना चाहिए। आप का contant कॉपीराइट नहीं होना चहिए। 

Adsense क्या है। 

ऐडसेंस एक Advertising साइट है। जिसे गूगल ने ही बनाए है। ऐडसेंस एड पर क्लिक का हमें पैसा देता है। उस के लिए हमें एक ब्लॉग बना होता है। जिस पर हम एडसेंस के एड कॉड लगा कर पैसे कमाते है उस के लिए हमें अपने ब्लॉग को एडसेंस के लिए approved करना होता है। तब जा कर हम एडसेंस के एड अपने ब्लॉग पर लगा सकते है। ऐडसेंस के policy बहुत ही शकत है। आप को उस का पालन करना होगा नहीं तो आप का एडसेंस अकाउंट disapproved कर दिया जाए गा।

Blog website Banane ke bad Adsense ke liye kab apply kare.


जब एडसेंस आ को साइट एको Review करता है। तो आप को साइट पर क्या check करता है। में आप को बता देता हूं जिस से आप का एडसेंस अकाउंट जल्दी अप्रूव्ड हो जाय। 

1 Blog Theme : एडसेंस आप के ब्लॉग कि थीम को चैक करता है कि आप का थीम जल्दी लोड होता है। और आप की थीम में कोई दूसरी साइट के लिंक ना हो। आप की साइट एक दम प्रॉफिसिनाल नग्नी चाहिए। थीम का बैकग्राउंड कॉलर सफेद होना चाहिए।  

2 page:  आपकी साइट पर About us , contact us और privacy policy का पेज होना चाहिए। Pricacy policy आप की खुद की लिखी होनी चाहिए। ऑटो जनरेट privacy policy नहीं होनी चाहिए। 

3 Traffic : आप की साइट गूगल सर्च में आनी चाहिए। पर डेली काम से कम 10 से 20 विजिटर तो आना ही चाहिए। और कुछ पोस्ट गूगल सर्च कंसोल में इंडेक्स होनी चाहिए।  

4 Blog Design : गूगल ऐडसेंस आप के ब्लॉग का डिजाइन की चेक करता है। की देखने में आप का ब्लॉग कैसा लगता है। थीम कितना फास्ट लोड होता है। और आप उस को कैसे coustomize किए हो। 

5 contact: गूगल ऐडसेंस आप के कॉन्टैक्ट को चेक करता है। तो कॉन्टैक्ट आप ने ही लिखा है। या कहीं से कॉपी किया है अगर आप का कॉन्टैक्ट कॉपीराइट में आता है तो आप का ब्लॉग अप्रूव्ड नहीं होगा इस लिए किसी का कॉपी मत करो अपना खुद का कॉन्टैक्ट शेयर करो। 

उम्मीद करता हूं आप को ब्लॉग बनाने के बाद एडसेंस के लिए कब अप्लाई करें। की पूरी जानकारी हो गई होगी अगर अब भी आप का कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करे में आप के सवाल का रिप्लाइ जरूर दुगा। 

Comments

  1. kya ap muzhe bata sakte hai post ko share botton kaise laaye

    ReplyDelete
  2. mera blog editorialhub.life ha abhiha adsence ka aproval nhi mil rha h kya reason h

    ReplyDelete

Post a comment